महाराष्ट्र, केरल, दिल्ली और यूपी के 21 शहराें में 21 मार्च तक देश के 55% संक्रमित

दिल्ली.देश में 30 जनवरी काे काेराेनावायरस का पहला केस केरल में मिला था। 49 दिन में यह 19 राज्य और 3 केंद्रशासित क्षेत्रों पहुंच चुका है। महाराष्ट्र, केरल, यूपी और दिल्ली में 181 मामले मिले हैं। यानी 55% कोरोना मरीज इन राज्यों के 21 शहरों में हैं। महाराष्ट्र में शनिवार को 11 नए मामले मिले। इनमें 10 मुंबई और 1 पुणे में मिला है। इसी के साथ यहां के 8 शहरों में कुल 64 मरीज हाे गए हैं। इनमें पिंपरी-चिंचवड़ में 12, मुंबई में 11, पुणे में 9, नागपुर में 4, यवतमाल में 3, नवी मुंबई में 3 और कल्याण में 3 मामले मिले हैं।

केरल में शनिवार को 12 पॉजिटिव मरीज मिले। इससे यहां कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 52 पहुंच गई। छह शहर कासरगाेड, काेझीकाेड, तिरुअनंतपुरम, एर्नाकुलम, पलक्कड़, त्रिशुर सबसे अधिक प्रभावित हैं। राज्य में 44,390 लाेग निगरानी में हैं।यूपी के 6 शहरों में 43 संक्रमित मिले हैं। शनिवार काे नाेएडा और मुरादाबाद में दाे केस सामने अाए। लखनऊ, नोएडा और कानपुर सैनिटाइज किए जाएंगे। दिल्ली में 26 पॉजिटिव केस मिले हैं।

विदेश यात्रा छिपाने पर पति-पत्नी पर केस
महाराष्ट्र के जलगांव में पुलिस ने पति-पत्नी पर केस दर्ज किया है। दाेनाें ने थाइलैंड के पटाया की यात्रा की थी, लेकिन उन्हाेंने इस यात्रा की जानकारी नहीं दी। पुलिस एडवाइजरी के मुताबिक विदेश से लाैटे लाेग क्वारेंटाइन में रहें। दाेनाें काे क्वारेंटाइन कर दिया गया है और उनके स्वाब के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं।

दिल्ली में फ्री राशन, पंजाब में 3 हजार रु.
दिल्ली सरकार ने 72 लाख लोगों को मुफ्त राशन देने का फैसला लिया है। राशन स्कीम में कुल 18 लाख परिवार आते हैं। साथ ही कोटा 5 किलो से बढ़ाकर 7.5 किलो कर दिया गया है। विकलांग पेंशन डबल करने की बात कही। इसके अलावा पंजाब ने भी दिहाड़ी मजदूरों को 3 हजार रुपए देने की घोषणा की है।

ओडिशा: 8 शहरों, 5 जिलों में लॉकडाउन
ओडिशा में 8 शहरों और 5 जिलों में एक हफ्ते का लॉकडाउन लागू। करीब 40% हिस्सा प्रभावित हुआ है। पिछले कुछ दिनों में यहां 3 हजार से ज्यादा लोग विदेश से आए हैं। पंजाब के नवांशहर के बंगा कस्बे में जिस पॉजिटिव मरीज की मौत हुई थी, उसके परिवार के 6 सदस्याें की रिपोर्ट भी पाॅजिटिव पाई गई है।

विशेषज्ञाें का दावा

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्षडॉ. केके अग्रवाल के अनुसार भारत संक्रमण के तीसरे चरण की दहलीज पर पहुंच चुका है। यहां हालात नहीं संभले ताे स्थिति बेकाबू हाे जाएगी।

  • स्टेज-1: कोई भी मरीज, जिसे बीमारी है। लेकिन वह विदेश से संक्रमित हाेकर आया है।
  • स्टेज-2: कोरोना मरीज के संपर्क में आने से उसके परिजनों या रिश्तेदारों को बीमारी होना। यानी बीमारी का स्रोत पता होना।
  • स्टेज-3: किसी मरीज को बीमारी हो और उसे यह नहीं पता कि उसे किसके संपर्क में आने से बीमारी हुई। भारत अब इसके दहलीज पर खड़ा है।
  • स्टेज 4: जब बड़ी संख्या में बीमारी फैल जाए तो चीजें सरकार के नियंत्रण से बाहर हाे जाती हैं। न कोई रिकाॅर्ड मेंटेन हो पाता है और न पता चलता है कि कितने मरीज हैं और कहां इलाज चल रहा है। निजी क्षेत्र पर निर्भरता बढ़ जाती है।

फैशन के लिए जांच न कराएं: केंद्र
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आग्रह किया है कि सिर्फ फैशन या शंका पर ही कोरोना की जांच न कराएं। लक्षण पर ही ऐसा करें। सभी सरकारी अस्पताल सोमवार को मॉक ड्रिल कर व्यवस्था दुरुस्त करेंगे।

नोट: सभी आंकड़े 21 मार्च तक के हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
कनिका के साथ सेल्फी लेने वाले भाजपा सांसद दुष्यंत सिंह 3 दिन तक संसद में रहे थे। इसलिए संसद भवन को सैनिटाइज किया गया।


from Dainik Bhaskar /national/news/55-of-the-country-infected-in-21-cities-of-maharashtra-kerala-delhi-and-up-127024633.html

Post a Comment

0 Comments