रॉकेट हमले में अमेरिका और ब्रिटेन के 3 तीन सैनिकों की मौत, 5 महीने में गठबंधन सैनाओं पर यह 22वां हमला

बगदाद. इराक की राजधानी बगदाद के उत्तर में स्थित ताजी एयर बेस पर बुधवार को रॉकेट से हमला किया गया। इसमें एक यूएस और एक यूके के सैनिक समेत एक कॉन्टेक्टर की मौत हो गई। पिछले अक्टूबर से अब तक गठबंधन सैनाओं पर यह 22वां हमला है। अमेरिकी अधिकारियों ने दावा किया कि बेस पर मौजूद सैनिकों को टारगेट कर बुधवार शाम को हमला किया गया था।

सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स वॉर मॉनिटर के मुताबिक, बेस पर रॉकेट हमले के एक घंटे बाद अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन ने सीरिया में ईरान-गठबंधन वाले इराकी लड़ाकों पर तीन विमानों के साथ एयर स्ट्राइक की और जेहादियों पर बम बरसाए। ताजी बेस पर मौजूद अमेरिकी नेतृत्व में सैनिक स्थानीय फौज को जिहादियों से लड़ाई में मदद करते हैं।

10 रॉकेट दागे गए
इराकी मिलिट्री ने दावा किया कि करीब 10 रॉकेट ट्रक से दागे गए, लेकिन उन्होंने किसी तरह की कैजुअल्टीज के बारे में कुछ नहीं कहा। इस हमले पर वॉशिंगटन और लंदन ने भी तत्काल कोई कमेंट नहीं किया है। वॉशिंगटन का आरोप है, हाल ही हुई हिंसा में इराक के हशद अल शाबी के मिलिट्री नेटवर्क का हाथ है। इसे ईरान की ओर से मदद दी जा रही है। ऑब्जरवेटरी प्रमुख रामी अब्देल रहमान ने सीरियाई सीमा वाले शहर का हवाला देते हुए कहा, दस विस्फोटों ने अल्बुकामल के पास के इलाके को हिला दिया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ताजी बेस पर मौजूद अमेरिकी नेतृत्व में सैनिक स्थानीय फौज को जिहादियों से लड़ाई में मदद करते हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/38Fkcyt

Post a Comment

0 Comments