कोरोना वायरस: पाकिस्तान ने माना पीएम मोदी का प्रस्ताव, कहा- SAARC देशों की वीडियो कॉन्फ्रेंस में लेंगे हिस्सा

पाकिस्तान ने कहा है कि वह वीडियो कॉन्फ्रेंस में शामिल होगा और इस महामारी से निपटने के उपायों पर होने वाली चर्चा में हिस्सा लेगा। Facebook

इस्लामाबाद: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (SAARC) देशों से कोरोना वायरस से निपटने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए चर्चा करने का आह्वान किया था। पीएम मोदी के इस प्रस्ताव के बाद पाकिस्तान समेत सभी देशों ने सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। पाकिस्तान ने कहा है कि वह वीडियो कॉन्फ्रेंस में शामिल होगा और इस महामारी से निपटने के उपायों पर होने वाली चर्चा में हिस्सा लेगा। बता दें कि हाल में भारत और पाकिस्तान के रिश्ते बेहद तनावपूर्ण रहे हैं, ऐसे में उसके इस कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने पर संदेह था।

पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्री होंगे कॉन्फ्रेंस में शामिल

प्रस्तावित वीडियो कॉन्फ्रेंस में पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्री के शामिल होने की संभावना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर सकारात्मक प्रतिक्रिया देते हुए पाकिस्तान ने कहा, ‘कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए वैश्विक और क्षेत्रीय स्तर पर मिलकर प्रयास करने होंगे। हमने अपने स्वास्थ्य मंत्री से बात की है। वह इस वीडियो कॉन्फ्रेंस में शामिल होंगे और कोरोना से निपटने के उपायों पर चर्चा करेंगे।’ हालांकि फारूकी ने इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी या भारत का नाम नहीं लिया, जबकि इसकी पहल भारतीय प्रधानमंत्री ने ही की थी।


सार्क देशों ने पीएम मोदी से कहा, हम आपके साथ 
श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबया राजपक्षे ने मोदी की पहल को सराहते हुए कहा कि कोरोना वायरस के मसले पर श्रीलंका बात करने को तैयार है। भूटान के पीएम लोतेय त्शेरिंग ने प्रस्ताव पर सहमति व्यक्त करते हुए पीएम मोदी की नेतृत्व क्षमता की जमकर तारीफ की। मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने भी PMद्र मोदी का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि हम क्षेत्रीय एकता दिखाने की मुहिम का समर्थन करते हैं। SAARC देशों में अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भारत, भूटान, नेपाल, मालदीव, पाकिस्तान और श्रीलंका शामिल हैं।


from India TV: world Feed https://ift.tt/2wRnbXB

Post a Comment

0 Comments